Sushant Singh Rajput Stuggling Story

जीत की खातिर बस जूनून चाहिए, जिसमे उबाल हो ऐसा खून चाहिए, ये आसमा भी आएगा जमी पर, बस इरादों में जित की गूंज चाहिए इसी तरह की गूंज हमने सुशांत के इरादों में देखी और इसी तरह से आज उनका नाम हर कोई जानता है आज की विडियो में हम मस धोनी अनटोल्ड स्टोरी और कई पो छे जैसी सफल फिल्मे काम करने वाले सुशांत सिंह राजपूत की ज़िंदगी की कहानी के बारे में जानेंगे की किस तरह से उन्होंने इस मुकाम को हासिल किया
  



सुशांत सिंह राजपूत का जन्म 21 जनवरी 1986 को बिहार के पटना में हुआ था उनके पिता केके सिंह एक सरकारी अधिकारी है सुशांत की चार बहने भी है जिनमे से नीतू सिंह नेशनल लेवल की क्रिकेट प्लेयर है सुशांत ने छोटी उम्र में ही जब वह जब 12 वी क्लास में थे उन्होंने अपनी माँ को खो दिया था और इसी हादसे के बाद से वह पटना छोड़ कर डेल्ही आ गए सुशांत की शुरवाती पढाई सेंट केरेस स्कूल पटना से हुई थी 

उन्होंने 11 क्लास में नेशनल ओलिंपियाड में फिजिक्स के एग्जाम में गोल्ड मैडल भी जीता था और आगे की पढाई डेल्ही के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल से की उसके बाद इंजिनियर एडमिशन लेने के लिए उन्होंने जेई की तयारी करी और जेई मैन्स के एग्जाम में बहुत अच्छी रैंक स्कोर करी इसके डेल्ही के टेक्निकल स्कूल से मैकेनिकल की पढाई करनी शुरू करदी 

लेकिन एक्टिंग और थिएटर में इंटरेस्ट की वजह से उन्होंने अपनी इंजीनियरिंग पूरी नहीं करी उसके बाद भी सुशांत पढाई में काफी अवल थे इस वजह से वह बहुत से एग्जाम में बिना पढ़े ही पास हो जाते थे उनका सपना पहले एक एस्ट्रोनॉट बनने का था और इसके लिए वह दिन रात पढाई भी किया करते थे और इसी वजह से वह एक बार नासा भी विजिट करने गए थे 

फिर बाद में उन्हें एहसास हुआ की वह अपना काररीएर फिल्मो में बनाना चाहते है इसलिए उन्होंने इंजिनियर के साथ-साथ कोरेओग्रफेर के शिअमक दावर डांस क्लास भी जॉइन कर ली महा शामक इनके डांस से काफी इम्प्रेस हुए और इन्हें अपने मैं डांस ग्रुप में शामिल कर लिया सुशांत की काररीएर की शुरवात बैकअप डांसर में हुई थी दोस्तों आपने अवार्ड शोज में विनर्स परफॉरमेंस होती है 

उनमे आपने देखा होगा एक्टर्स के पीछे पूरा डांस ग्रुप होता है सुशांत अपनी इंजिनियर के साथ साथ इन्ही डांस ग्रुप में डांस किया करते थे थर्ड इयर की पढाई पूरी करने के बाद सुशांत ने अपनी इंजीनियरिंग छोड़ दी सुशांत को 2006 में हुए कॉमन वेल्थ गेम्स में एक स्टेज शो में अशरारॉय के साथ परफॉरमेंस करने का मुका भी मिला था और उन्होंने फिल्म्फारे अवार्ड में कही बार डांस किया हुआ है सुशांत को स्टार्टिंग में डांस की प्ररेणा शारुख खान से ली थी  

मुंबई आने के बाद उन्होंने एक डांस ग्रुप के साथ भी परफॉर्म करा इसको फेमस कोरेओग्राफर आइसुलागो ने ट्रीट किया था उसके बाद उन्होंने थिएटर जॉइन करा और वह बहुत काम का रहा पर शायद यही कारण रहा की वह हार्ड एक्टर बनने में सफल रह सके उन्होंने फेमस एक्शन डायरेक्टर आलें अमिन से मशाल्लाड की ट्रेनिंग लेनी भी शुरू कर दी यही पर उन्हें सबसे पहले बालाजी टेली फिल्म्स की कास्ट की टीम ने नोटिस करा जिसके बाद उनके काररीएर की शुरवात किस देश में है 

मेरे देश के टीवी शोज से हुई इसे में उन्होंने प्रीत जुनेजा का किरदार निभाया लेकिन उस शो में उनका रोले जल्दी ख़तम हो गया था हां लेकिन इसमें भी सुशांत ने पूरी कोसिस की लोग तक अपनी पहचान बना सके लेकिन इसके बाद जी टीवी का शो पवित्र रिश्ता उनके लिए लाइफ चंगिंग साबित हुआ और इस शो के जरिये उन्होंने विएवेर्स के डील में अपनी जगह बना ली और घर घर की पसंद बन गए 

सुशांत ने रियलिटी शो जरा नच की दिखा 2 और जलक दी लाजा 4 में भी हिसा लिया इन्हें टीवी शो पवित्र रिश्ते के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड भी मिला और कुछ समय बाद ही सुशांत यह शो बीच में छोड़ कर आउट ऑफ़ इंडिया थिएटर सिखने जा रहे थे लेकिन उसे पहले उन्होंने अभिषेक कपूर की फिल्म कई पो छे का ऑडिशन दिया इसके बाद फिल्म में सुशांत को मैंन रोले में रखा गया फिल्म कई पो छे चेतन भगत की नोवल द थ्री मिस्टेक्स हो मु लाइफ पर बेस्ड थी 

इस फिल्म  ने थिएटर में कुभ नाम कमाया और अपनी पहली फिल्म से ही सबकी नज़रो में अपनी जगह बनाने वाले सुशांत का जीवन इतना आसान नहीं रहा था माँ-बाप की इछा के बिना फिल्मो में अपना काररीएर चुना और आज इंडस्ट्री में अपना अलग ही मुकाम बना लिया है कई पो छे के लिए उन्हें बेस्ट मेल देबू के अवार्ड से नोमिनाते भी किया गया सुशांत को उनकी पहली फिल्म के बाद शुद्ध देसी रोमांस मिली तो उनके बड़े स्टार ना होने की वजह से कोई भी एक्ट्रेस काम नहीं करना चाहती थी और यह वजह थी की उनकी इस फिल्म में काम काफी टाइम बाद प्रीटी को दिया गया 

लेकिन धीरे-धीरे उन्हें वो पॉपुलैरिटी मिने लगी और साथ में कई फिल्मे बी मिली जैसे, पीके मस धोनी दा अनटोल्ड स्टोरी राबता और केदारनाथ और सुशांत ने टीवी को अलविदा बोलते हुए यह देसिड़े कर लिया था की वह अगर फिल्म इंडस्ट्री में फिट नहीं हुए तो फिल्मसिटी में कैंटीन खोल लेंगे और कूद ही शॉट फिल्म्स बनाने लग जायेंगे लेकिन उन्हें यह काम नहीं करना पड़ा और फिल्म इंडस्ट्री में उन्होंने अपना टैलेंट देखा कर यह साबित कर दिया की जितना कठिन सगर्ष होगा जित उतनी ही शानदार होगी हां ली में आने वाले इनकी फिल्म छिछोरे रिलीज़ होने वाली है इसके प्रोमो से ही आप अंदाजा लगा सकते है की यह मूवी कितनी हित होने वाली है  

Post a Comment

0 Comments