Choked Paisa Bolta Hai Movie Review | चोकड़ पैसा बोलता है मूवी रिव्यु

Choked Paisa Bolta Hai Movie Review | चोकड़ पैसा बोलता है मूवी रिव्यु
Choked Paisa Bolta Hai Movie Review

सरिता पिल्लई जो की बैंक कर्मचारी होती है। जिसका पति नाकारा, नला होता है, और उसके पास कोई नौकरी नहीं होती। सरिता का सपना होता है की वह बहुत अमीर हो और अपने हर सपनों को पूरा करे। 


लेकिन वह अपनी कमाई से अपने सपने को पूरा करने में असमर्थ होती है और ऊपर से उसके पति के पास कोई नौकरी नहीं होती। इसलिए सरिता का सपना सिर्फ़ सपना ही बन कर रह जाता है, लेकिन कहानी में नया मोड़ आता है। 

एक दिन अचानक से, सरिता के घर की नाली से 500 और 1000 रुपय की नोट बाहर निकलने लगती है। वह पहले इस के बारे में बहुत सोचती है, की इतना सारा पैसा आया तो कहा से आया। इन सब पैसों की जाँच पड़ताल के लिए वह अपने बैंक मैनेजर को दिखाती है की यह नॉट असली है की नक़ली।  

फिर कुछ दिनों बाद वह इन सब बातों को नज़र अंदाज़ कर देती है। वह अपने हर सपने, हर शौक को इन पैसों के जरिए पूरा करती है। सरिता के लिए एक मनहूस दिन साबित तब होता है जब हमारे देश के प्रधानमंत्री मोदी जी नोटबंदी (Demonetize) घोषित कर देते है। उस दिन से मानो सरिता के पैरों की ज़मीन ख़िसक सी जाती है। 

कैसे सरिता इन पैसों के बारे में पता लगा पाती है की, यह पैसे आये तो कहा से आये। नोटेबंदी के बाद सरिता के साथ क्या होता है। यह सब फिल्म देख कर ही पता चलेगा।


चोकड़ फ़िल्म के बारे में 


चोकड़ मूवी एक सच्ची घटना के आधार पर बनाई गयी है, जब भारत देश में 2016 को नोटेबंदी हुई थी। इस फिल्म को देख कर आपको अपनी याद तो आयी होगी, जब नोटेबंदी के चक्कर में कही घंटो तक बैंकों की लाइन में खड़ा होना पड़ता था। 

फ़िल्म को डायरेक्ट और को-प्रोड्यूस अनुराग़ कश्यप (Anurag Kashyap) ने किया है। इसके अलावा फ़िल्म में सैयामी खेर, रोशन मैथ्यू, और अमृता सुभाष देखने को मिलते है। 

बात करे फिल्म के डायरेक्शन और बीजीएम् (BGM) की तो काफी जबदरस्त है। लेकिन देखा जाए तो फिल्म की कहानी इतनी ज्यादा ख़ास नहीं है। बहुत से लोगो का माना है की शुरवात में फ़िल्म की कहानी काफी मज़ेदार है, लेकिन धीरे-धीरे कहानी बोरिंग होती जाती है, और नेटफ़्लिक्स ने उनका एक बार फिर से पूरा टाइम बर्बाद कर दिया है।